Weather Update: ओडिशा-आंध्र प्रदेश के तट पहुंचेगा चक्रवात तूफान, इन इलाकों में वापस लौटेगी भीषण गर्मी

भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के महानिदेशक मृत्युंजय महापात्र ने कहा कि साइक्लोन उत्तर-उत्तर-पूर्व की ओर मुड़ेगा और उत्तर आंध्र-ओडिशा तट के पास बंगाल की खाड़ी की ओर बढ़ेगा।
 | 
Weather Update: ओडिशा-आंध्र प्रदेश के तट पर पहुंचेगा चक्रवात, इन इलाकों में वापस लौटेगी भीषण गर्मी

लोगों और प्रशासन को बड़ी राहत देते हुए आईएमडी ने शनिवार को घोषणा की कि बंगाल की खाड़ी में बना चक्रवाती तूफान ओडिशा या आंध्र प्रदेश में दस्तक नहीं देगा बल्कि तट के समानांतर आगे बढ़ेगा।

भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के महानिदेशक मृत्युंजय महापात्र ने कहा कि साइक्लोन उत्तर-उत्तर-पूर्व की ओर मुड़ेगा और उत्तर आंध्र-ओडिशा तट के पास बंगाल की खाड़ी की ओर बढ़ेगा।

अच्छी तरह से चिह्नित निम्न दबाव का क्षेत्र एक डिप्रेशन में बदल गया है और अब उत्तर-पश्चिम दिशा में तट की ओर बढ़ रहा है। यह 10 मई की शाम तक उस दिशा में आगे बढ़ना जारी रखेगा, और उसके बाद समुद्र तट के समानांतर उत्तर-उत्तर-पूर्व की ओर आगे बढ़ेगा।

आईएमडी के विशेष बुलेटिन के अनुसार, 10 मई की शाम को तटीय ओडिशा में कई स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है। गजपति, गंजम और पुरी में एक या दो स्थानों पर भारी वर्षा (7-11 सेमी) होने की संभावना है।

अगले दिन गंजम, खुर्दा, पुरी, जगतसिंहपुर और कटक में एक-दो जगहों पर भारी बारिश होगी। आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल के कुछ हिस्सों में भी बारिश का पूर्वानुमान है।

सफदरजंग मौसम केंद्र के मुताबिक 9 से 13 मई तक राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में हीटवेव की स्थिति रहेगी। इस दौरान अधिकतम तापमान 43 या 44 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने की संभावना है। अगले छह दिनों में, राष्ट्रीय राजधानी में न्यूनतम तापमान 24 से 28 डिग्री के बीच रहने की संभावना है।
 
भारत मौसम विज्ञान विभाग ने चेतावनी दी है कि पिछले कुछ दिनों से राहत के बाद, आने वाले दिनों में महाराष्ट्र, विदर्भ, राजस्थान, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, विदर्भ और दिल्ली के कुछ हिस्सों में लू चलने की संभावना है।

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक उच्च स्तरीय बैठक में हीटवेव प्रबंधन और मानसून की तैयारियों से संबंधित स्थिति की समीक्षा की और राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को राज्य, साथ ही शहर और जिला दोनों स्तरों पर हीट एक्शन प्लान बनाने की सलाह दी।

आईएमडी ने अगले तीन दिनों के दौरान उत्तर पश्चिमी और मध्य भारत के अधिकांश हिस्सों में अधिकतम तापमान में 2-4 डिग्री सेल्सियस की वृद्धि की भविष्यवाणी की है।

आईएमडी ने 7 से 9 मई तक असम-मेघालय और नागालैंड-मणिपुर-मिजोरम-त्रिपुरा में गरज/बिजली गिरने की भविष्यवाणी की है। 10 मई तक पश्चिमी-उत्तरी और उत्तरी-पूर्वी बिहार के तकरीबन सभी जिलों में हल्की बारिश के आसार नजर आ रहे हैं।

मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक अब आंधी-पानी में कमी दर्ज हो सकती है। मौसम विभाग ने रविवार से राजस्थान के कई इलाकों में फिर से गर्मी के जोर पकड़ने का अनुमान व्यक्त करते हुए लू चलने की चेतावनी जारी की है।

जोधपुर, बीकानेर, जयपुर एवं भरतपुर संभाग के जिलों में अधिकतम तापमान 44 डिग्री से 45 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने और लू चलने की संभावना है।