इन किसानों को नहीं मिलेगी पीएम किसान योजना की अगली किस्त, आपने भी तो नहीं की ये गलती?

 | 
इन किसानों को नहीं मिलेगी पीएम किसान योजना की अगली किस्त, आपने भी तो नहीं की ये गलती?

PM Kisan Update: पीएम किसान सम्‍मान निधि योजना को लेकर एक बड़ा खुलासा सामने आया है। उत्तर प्रदेश में अबतक 3 लाख 15 हजार 10 लाभार्थी इस योजना के तहत फर्जी पाए गए हैं, जो अभी तक इस योजना का लाभ उठा रहे थे। लेकिन अब ऐसे लोगों से दी गई रकम की रिकवरी की जाएगी। मुख्य सचिव दुर्गाशंकर मिश्र ने सभी जिलाधिकारियों को इस मामले में जांच के आदेश दिए हैं।

यूपी में अब तक इस योजना के तहत 2.55 करोड़ किसानों को कम से कम एक बार पीएम किसान सम्मान निधि का लाभ दिया गया है। इनमें से 6.18 लाख किसान ऐसे हैं जिनके डेटाबेस में उनकी आधार नंबर में गलतियां या आवेदन में गड़बड़ी मिली थी। ऐसे लोगों को एक किस्‍त मिलने के बाद दूसरी किस्‍त नहीं मिल पाई है।

नहीं मिल रही किस्‍त तो क्‍या करें

हालाकि ऐसे लोगों का डेटा सुधार कराया जा रहा है, लेकिन अगर आपको भी इस योजना के तहत एक के बाद दूसरी या कोई भी किस्‍त नहीं मिली है तो आप इस योजना के तहत दिए गए दस्‍तावेजों की जांच कर सकते हैं। इसके अलावा आप अपने आवेदन को पीएम किसान पोर्टल पर जाकर सुधार करा सकते हैं। वहीं मुख्य सचिव ने निर्देश दिए हैं कि राजस्व एवं कृषि विभाग की टीम बनाकर आधार इनवेलिड, नाम मिस्मैच तथा नवीन आवेदन पत्रों का सत्यापन 30 जून तक पूरा कराएं।

53 फीसद लोगों ने कराया केवाईसी

केंद्र सरकार ने पीएम सम्मान निधि के सभी लाभार्थियों का ईकेवाईसी 31 मई तक पूरा कराने के निर्देश दिए हैं। अभी तक सिर्फ 53 फीसदी लाभार्थियों का ही ईकेवाईसी हो सका है। इसे पीएम किसान सम्‍मान निधि के पोर्टल पर या कॉमन सर्विस सेंटर पर जाकर पूरा कराया जा सकता है। अगर ऐसा नहीं किया गया तो हो सकता है कि आपकी अगली किस्‍त रुक जाए।

जल्‍द आ सकती है 11वीं किस्‍त
बता दें कि पीएम किसान योजना के तहत 10वीं किस्‍त जारी है और 11वीं किस्‍त को लेकर कहा जा रहा है कि, इसे जल्‍द ही जारी किया जा सकता है। लेकिन उससे पहले किसानों को 31 मई तक अपना केवाईसी पूरा कराना होगा।