PM Kisan Yojana: इंतजार खत्म! किसान योजना की 11वीं किस्त के लाभार्थी जल्द निपटा लें ये काम

 | 
 pm kisan 11th installment list 2022, pm kisan 11th installment date and time, pm kisan 11th installment kab aayegi, pm kisan 11th installment date time 2022, pm kisan 11th installment date 2022 hindi me, pm kisan.gov.in registration, pm kisan 11th installment date 2021, pm kisan 11th installment date 2022 tamil, pm kisan,

पीएम किसान योजना के 11वीं किस्त का इंतजार कर रहे किसानों के लिए जरूरी खबर है। क्योंकि जल्द पीएम किसान योजना के लाभार्थियों के खाते में दो हजार रुपये आने वाले हैं। दरअसल, पीएम किसान योजना (PM Kisan Samman Nidhi Yojana) के तहत किसानों को 11वीं किस्त का इंतजार है। अब तक इस योजना के तहत किसानों को 10 किस्तें मिल चुकी हैं।

 
पीएम किसान योजना 2021 में केंद्र सरकार ने कई बड़े बदलाव किए हैं। अब किसानों को 11वीं किस्त के लिए KYC  पूरा करना अनिवार्य हो गया है।

e-KYC है अनिवार्य
आप घर बैठे केवाईसी की प्रक्रिया पूरी कर सकते हैं। गौरतलब है कि किसान योजना के पोर्टल पर कुछ समय पहले e-KYC की सुविधा बंद कर दी गई थी। लेकिन अब इसे फिर से शुरू कर दिया गया है।

अगर आप भी 11वीं किस्त के पैसे (11th Installment Money) का इंतजार कर रहे हैं तो e-KYC की प्रक्रिया को जल्दी पूरा कर लें क्योंकि इसके बिना आपकी किस्त अटक सकती है।

कैसे करें e-KYC ?
पीएम किसान पोर्टल पर ऑनलाइन केवाईसी करने का विकल्प दिया गया है। इस पोर्टल पर बताया गया है कि काऐसे आप आधार आधारित OTP प्रमाणीकरण के लिए किसानों को Kisan Corner में e-KYC विकल्प पर जाकर कर सकते हैं।


हालांकि बायोमेट्रिक प्रमाणीकरण के लिए आपको अपने निकटतम CSC सेंटर पर जाना होगा। आइए जानते हैं कैसे आप घर बैठे e-KYC की प्रक्रिया को पूरा कर सकते हैं। 

जानिए e-KYC के प्रोसेस
1. e-KYC को आप घर बैठे अपने मोबाइल, लैपटॉप या कंप्यूटर की मदद से कर सकते हैं।
2. इसके लिए सबसे पहले आप https://pmkisan.gov.in/ पोर्टल पर जाएं।
3. अब इस पेज के दाहिने साइड आपको टैब्स मिलेंगे।
4. इसमें सबसे ऊपर e-KYC लिखा होगा, इस पर क्लिक करें।
5. यहां आप अपनी e-KYC की प्रक्रिया पूरी करें। 
6. बायोमेट्रिक प्रमाणीकरण के लिए निकटतम सीएससी केंद्रों से संपर्क करें।

e-KYC की लास्ट डेट कब है?
ई-केवाईसी की लास्ट डेट पहले 31 मार्च थी, जिसे अब बढ़ाकर 22 मई कर दिया गया है। पीएम किसान पोर्टल (pmkisan।gov।in) पर इसकी जानकारी दी गई है।