PM Kisan Yojana: पीएम किसान योजना के 2 हजार रुपये आने की नई तारीख घोषित, जानिए

 | 
PM Kisan Yojana: पीएम किसान योजना के 2 हजार रुपये आने की नई तारीख घोषित, जानिए

PM Kisan Yojana Date: देश के करोड़ों किसानों को पिछले कई दिनों से पीएम किसान योजना (PM Kisan Yojana) के तहत मिलने वाली 10वीं किस्त का बेसब्री से इंतजार है. प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत केंद्र सरकार किसानों को हर साल छह हजार रुपये मुहैया करवाती है. इस राशि को तीन बार में 2-2 हजार करके दिया जाता है. इस योजना के जरिए सरकार किसानों को आर्थिक रूप से मजबूत करना चाहती है.


कुछ समय पहले तक रिपोर्ट्स सामने आई थीं कि सरकार किसानों को 15 दिसंबर तक पीएम किसान योजना की दो हजार रुपये की राशि ट्रांसफर करने जा रही है, लेकिन 15 दिसंबर तारीख निकलने के बाद भी यह राशि नहीं दी गई है. अब नई डेट को लेकर कयास लगाए जाने लगे हैं. कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि केंद्र सरकार किसानों को अगामी 25 दिसंबर को पीएम किसान योजना के पैसे ट्रांसफर कर सकती है.

पीएम किसान योजना डेट (PM Kisan 10th Installment Date)
पीएम किसान योजना के तहत भेजे जाने वाले पैसों की जो जानकारी सामने आई है, उसके अनुसार, 10वीं किस्त 25 दिसंबर को भेजी जा सकती है. इस तारीख को बल इसलिए भी मिल रहा है, क्योंकि पिछले साल केंद्र सरकार ने पीएम किसान योजना के पैसे भी 25 दिसंबर को ही भेजे थे.

ऐसे में माना जा रहा है कि इस बार भी सरकार 25 दिसंबर को ही किसानों के बैंक अकाउंट में पैसा भेज सकती है. हालांकि, अब तक इस तारीख पर सरकार की ओर से कोई भी आधिकारिक बयान सामने नहीं आया है.

ऐसा नहीं किया तो नहीं मिलेंगे पैसे 
पीएम किसान योजना के तहत रजिस्टर्ड किसानों के लिए केंद्र सरकार ने ई-केवाईसी को अनिवार्य बना दिया है. यदि कोई किसान ई-केवाईसी नहीं करवाता है तो फिर उसे पीएम किसान योजना के पैसे से वंचित रहना होगा. इसके बिना सरकार की ओर से मिलने वाली दो हजार रुपये की राशि नहीं दी जाएगी.

किसानों को अब तक मिल चुकी है 9 किस्तें
प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत केंद्र सरकार की ओर से किसानों को अब तक नौ किस्तें भेजी जा चुकी हैं. हर बार सरकार दो-दो हजार रुपये की किस्त भेजती है. हालांकि, इस बार दसवीं किस्त के साथ ही उन किसानों को दो हजार रुपये की राशि और भेजी जा सकती है, जिनके पास नौवीं किस्त का पैसा नहीं पहुंचा है. ऐसे में इन किसानों को कुल चार हजार रुपये मिलेंगे.