Movie prime

क‍िसान भाइयो के ल‍िए बड़ी खुशखबरी: क‍िस्‍त से पहले सरकार ने की मुआवजे की घोषणा, 223 करोड़ रुपये जारी क‍िए गए

 
क‍िसान भाइयो के ल‍िए बड़ी खुशखबरी: क‍िस्‍त से पहले सरकार ने की मुआवजे की घोषणा, 223 करोड़ रुपये जारी क‍िए गए

PM Kisan Samman Nidhi: देशभर के क‍िसानों के बीच पीएम क‍िसान सम्‍मान न‍िध‍ि की 13वीं क‍िस्‍त का इंतजार लंबा होता जा रहा है. सरकार की तरफ से इस बार ल‍िस्‍ट से अपात्रों के नाम काटे जा रहे हैं. ल‍िस्‍ट पूरी तरह तैयार होने के बाद ही क‍िसानों के खाते में सरकार की तरफ से पैसा ट्रांसफर क‍िया जाएगा. लेक‍िन पीएम क‍िसान की क‍िस्‍त के इंतजार के बीच कर्नाटक सरकार ने राज्‍य के क‍िसानों को खुशखबरी दी है. इससे पहले पंजाब सरकार ने भी क‍िसानों को राहत दी थी.

223 करोड़ रुपये जारी क‍िए गए
कर्नाटक सरकार ने प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में कीटों के हमले से बर्बाद हुई तुअर (अरहर) की फसल उपजाने वाले किसानों को मुआवजा देने की घोषणा की है. कर्नाटक सरकार की तरफ से इसके ल‍िए 223 करोड़ रुपये जारी क‍िए गए. सीएम ऑफ‍िस की तरफ से जारी बयान में कहा गया, 'बीदर, कलबुर्गी और यादगिरि जिलों में तुअर की फसल के नुकसान को विशिष्ट मामला माना गया है. सरकार ने 10,000 रुपये प्रति हेक्टेयर की दर से मुआवजा देने की घोषणा की है, लेकिन एनडीआरएफ/एसडीआरएफ के दिशानिर्देशों के अनुसार एक किसान को अधिकतम दो हेक्टेयर फसल का ही मुआवजा दिया जाएगा.'

कर्नाटक में 60 लाख क‍िसान पंजीकृत
आपको बता दें राज्‍य में पीएम क‍िसान के अंतर्गत करीब 60 लाख क‍िसान पंजीकृत हैं. पीएम क‍िसान (PM Kisan) के तहत लाभ पाने वाले क‍िसानों को भी सरकार की तरफ से फसल का मुआवजा दिया जाएगा. बयान के अनुसार, तुअर के उत्पादक किसानों को 223 करोड़ रुपये का मुआवजा दिया जाएगा. यह फैसला मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई की अध्यक्षता में विभिन्न विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ की गई बैठक में लिया गया. बयान के अनुसार, कुल मिलाकर तुअर की लगभग 2.2278 लाख हेक्टेयर फसल कीटों के हमले से प्रभावित हुई है.