कंगना का विवादित बयान, बोलीं- 1947 में भीख मिली, असली आजादी तो 2014 में मिली, जाने पूरा मामला

 | 
controversial-statement-of-kangna-said-got-alms-in-1947-got-real-freedom-in-2014

अक्सर अपने बयानों के कारण विवादों में रहने वाली बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत ने हाल ही में एक ऐसा बयान दिया है जिससे बवाल मच सकता है।  कंगना रनौत ने कहा कि 1947 में मिली आजादी भीख थी, जबकि असली आजादी 2014 में मिली है। बॉलीवुड एक्ट्रेस के इस बयान को लेकर सोशल मीडिया पर लोग खासी नाराजगी जाहिए कर रहे हैं।

माय सिरसा

‘टाइम्स नाऊ के समिट 2021’ में  कंगना रनौत ने आजादी को लेकर विवादित बयान देते हुए कहा कि कंगना ने कहा, ‘’आजादी अगर भीख में मिले, तो क्या वो आजादी हो सकती है? सावरकर, रानी लक्ष्मीबाई, नेता सुभाषचंद्र बोस इन लोगों की बात करूं तो ये लोग जानते थे कि खून बहेगा लेकिन ये भी याद रहे कि हिंदुस्तानी-हिंदुस्तानी का खून न बहाए। उन्होंने आजादी की कीमत चुकाई, यकीनन. पर वो आजादी नहीं थी वो भीख थी। जो आजादी मिली है वो 2014 में मिली है।

वहीं वरुण गांधी ने कंगना पर स्वतंत्रता सेनानियों के अपमान का आरोप लगाया है और कहा है कि कंगना की सोच को मैं मैं पागलपन कहूं या फिर देशद्रोह। वरुण गांधी ने ट्विटर पर लिखा है, ‘’कभी महात्मा गांधी जी के त्याग और तपस्या का अपमान, कभी उनके हत्यारे का सम्मान और अब शहीद मंगल पाण्डेय से लेकर रानी लक्ष्मीबाई, भगत सिंह, चंद्रशेखर आज़ाद, नेताजी सुभाष चंद्र बोस और लाखों स्वतंत्रता सेनानियों की कुर्बानियों का तिरस्कार। इस सोच को मैं पागलपन कहूं या फिर देशद्रोह ?