रात के अंधेरे में पानीपत के बहरामपुर गांव में घुसा तेंदुआ, SHO समेत 3 लोगों पर किया जानलेवा हमला, देखे वीडियो

बता दें कि बहरामपुर गांव के एक किसान ने चारा काटते वक्त तेंदुए को घूमते देखा और भागकर गांव में आकर सूचना दी। इसके बाद बापौली थाना पुलिस को सूचना दी गई।
 | 
रात के अंधेरे में पानीपत के बहरामपुर गांव में घुसा तेंदुआ, SHO समेत 3 लोगों पर किया जानलेवा हमला, देखे वीडियो

हरियाणा के पानीपत में हैरान कर देने वाला मामला सामने आया जहां रात के अंधेरे में एक तेंदूआ घुस गया। मामला गांव बहरामपुर का है। तेंदुए के मिलते ही पूरे गांव में दहशत फैल गई।

पुलिस और वन विभाग की टीम को मामले की सूचना दी गई। सूचना मिलते ही पुलिस की टीम मौके पर पहुंची। इस दौरान रेस्क्यू के दौरान तेंदुए ने एसएचओ समते 3 लोगों पर हमला कर दिया। इस हमले में सनौली थाना SHO जगजीत सिंह, वाइल्ड लाइफ इंस्पेक्टर प्रदीप कुमार, डॉक्टर अशोका खासा गंभीर रूप से घायल हो गए।
 
3 लोगों के घायल हो जाने के बाद भी टीम ने हिम्मत नहीं हारी। टीम ने साहस दिखाते हुए आखिरकार ट्रेंकुकुलाइजर का ठीक निशाना लगाते हुए तेंदुए को लगा दिया। जिससे वह चंद मिनटों में ही बेहोश हो गया और उसे काबू कर लिया गया।

बता दें कि बहरामपुर गांव के एक किसान ने चारा काटते वक्त तेंदुए को घूमते देखा और भागकर गांव में आकर सूचना दी। इसके बाद बापौली थाना पुलिस को सूचना दी गई।

सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और वन विभाग को इसकी सूचना दी गई। देर रात तक वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची। इससे पहले बापौली और सनौली थाने की पुलिस ग्रामीणों की मदद से तेंदुए को पकड़ने का प्रयास करती रही।

पुलिस ने खेतों के चारों ओर जाल लगाया। वहीं तेंदुए के मिलने की सूचना पर पूरे क्षेत्र में सनसनी फैली हुई है। पुलिस अधिकारियों ने इसकी सूचना एसपी शशांक कुमार सावन को दी।
 
वहीं तेंदुए को पकड़ने के चक्कर में एसएचओ जगजीत सिंह घायल हो गए। वन विभाग की टीम ने तेंदुए को बेहोश कर पकड़ लिया और उसे साथ ले गए। जिसके बाद ग्रामीणों ने राहत की सांस ली।

एसएचओ जगजीत सिंह का कहना है कि‌ यमुना के तटीय क्षेत्रों में जंगल है। यहां जंगली जानवर हो सकते हैं। हो सकता है तेंदुआ जंगल से निकलकर बाहर आ गया हो। तेंदुए को 5 घंटे की कड़ी मश्कत के बाद रात 11 बजे पकड़ा गया।