देश-विदेश

आज ही बनवा ले ये सर्टिफिकेट, नहीं तो कट सकता है 10 हजार रुपए का चालान

CH Silven
23 Sep 2022 6:46 AM GMT
आज ही बनवा ले ये सर्टिफिकेट, नहीं तो कट सकता है 10 हजार रुपए का चालान
x
भारत की राजधानी दिल्ली भी प्रदूषित शहरों में से एक है. अधिक जनसंख्या के कारण दिल्ली शहर प्रदूषण से युक्त है.

नई दिल्ली, PUC Certificate :- भारत की राजधानी दिल्ली भी प्रदूषित शहरों में से एक है. अधिक जनसंख्या के कारण दिल्ली शहर प्रदूषण से युक्त है. स्विस कंपनी आईक्यूएयर ने अपनी रिपोर्ट में दावा किया है कि भारत की राजधानी दिल्ली साल 2021 में दुनिया की सबसे प्रदूषित राजधानी थी. इसलिए प्रदूषण के स्तर पर अंकुश लगाने के लिए सरकार ने एक अहम कदम उठाया है. सरकार के इस कड़े फैसले से आम- आदमी के जीवन स्तर पर सुधार हो सकेगा.

बिल्कुल ना करें लापरवाही

आपको बता दें कि दिल्ली एनसीआर में 1 अक्टूबर से Legal PUC Certificate नहीं होने पर 10 हजार चालान काटे जाएंगे. परिवहन विभाग के संयुक्त आयुक्त नवलेंद्र कुमार सिंह ने कहा कि Legal PUC नहीं होने पर 10 हजार का चालान काटा जाएगा. दरहसल, दिल्ली शहर में अब ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान (GRAP) लागू किया जा रहा है. ऐसा इसलिए किया गया है ताकि वाहनों से निकलने वाले धुएं को रोका जा सके. अगर आपने भी अपने वाहन के प्रदूषण की जांच नहीं करायी है या आपके पास वैध पीयूसी नहीं है, तो एक सप्ताह के भीतर इसे करवा लें.

अब परिवहन विभाग करेगा सख्ती

परिवहन विभाग के संयुक्त आयुक्त नवलेंद्र कुमार सिंह ने कहा है अभी तक जिन लोगों ने अपने 10 साल पुराने डीजल और 15 साल पुराने पेट्रोल वाहनों को स्क्रैप नहीं करवाया है, तो ऐसे वाहनों को भी सड़क पर नहीं चलने दिया जाएगा. इतना ही नहीं अगर ऐसे वाहन सार्वजनिक पार्किंग में खड़े पाए जाते हैं तो उन्हें उठाकर कबाड़ के लिए भेजा जाएगा.

प्रदूषण पर रोकथाम है जरूरी

आपको बता दें कि सर्दी का मौसम शुरू होते ही दिल्ली की हवा में प्रदूषण बढ़ने लगा है. इस पर रोकथाम लगाना अनिवार्य है. हालांकि बारिश के बाद भी एयर क्वालिटी इंडेक्स 100 पर बना रहा. वहीं संयुक्त आयुक्त ने जानकारी देते हुए बताया है कि इस साल 1 जनवरी से 20 सितंबर तक प्रवर्तन टीमों ने 15,523 वाहनों का चालान किया है. वहीं, 5,596 पुराने वाहनों को जब्त कर कबाड़ के लिए भेजा गया है.

Next Story