हरियाणा

Panipat: पानीपत में सिंघम के नाम से प्रसिद्ध हवलदार ने दिया रिजाइन, बोले- अपराधी पकड़ता हूं पुलिस छोड़ देती

CH Silven
23 Sep 2022 2:31 PM GMT
Panipat: पानीपत में सिंघम के नाम से प्रसिद्ध हवलदार ने दिया रिजाइन, बोले- अपराधी पकड़ता हूं पुलिस छोड़ देती
x
हरियाणा के पानीपत ट्रैफिक हवलदार आशीष कुमार ने पुलिस अधिकारियों पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए. साथ ही उन्होंने कहा कि पुलिस अधिकारियों की अपराधियों से मिलीभगत है.

पानीपत :- हरियाणा के पानीपत ट्रैफिक हवलदार आशीष कुमार ने पुलिस अधिकारियों पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए. साथ ही उन्होंने कहा कि पुलिस अधिकारियों की अपराधियों से मिलीभगत है. अब उन्होंने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. इस पर SP का कहना है कि आशीष को उसकी मर्जी के अनुसार ही अलग-अलग क्षेत्रों पर ड्यूटी दी जा रही थी. वह ड्यूटी को छोड़कर अलग-अलग थाना क्षेत्रों में जाकर नियमों के खिलाफ दबिश दे रहा था. हवलदार आशीष कुमार अपना त्यागपत्र देने के लिए एसपी कार्यालय पहुंचे. जहां उन्हें कहा गया कि वह इंग्लिश ब्रांच में जाकर त्यागपत्र दे. उसके बाद वे वहां गए और त्यागपत्र सौंप दिया.

इस वजह से दिया हवलदार आशीष कुमार ने इस्तीफा

बता दे कि 19 या 20 September को अतिक्रमण हटाने व यातायात ड्यूटी के दौरान तहसील कैंप थाना क्षेत्र गया था, वहां पर उसने जुआरियों, नशेडियो के साथ अवैध शराब पकड़ी थी. साथ ही उसने आरोप लगाया कि यह सभी कार्य Police के संरक्षण में ही हो रहा है. सारे पुलिसकर्मी वहां पर सादे कपड़े में पहुंचे और नशा तस्करों को भगाने में सहायता की. Traffic पुलिस हवलदार ने आरोप लगाया कि उनका जमीर ऐसे कार्य करने की इजाजत नहीं देता, जिस वजह से वह अपनी नौकरी से इस्तीफा दे रहे हैं.

पुलिस पर लगाए गंभीर आरोप

इस पर एसपी शंशाक कुमार ने कहा कि मुख्य सिपाही आशीष कुमार की तरफ से कुछ समस्याएं लिखकर आज दी गई है. यदि इस संबंध में समस्या का समाधान निकालने की आवश्यकता पड़ी, तो मुख्य सिपाही आशीष कुमार की काउंसलिंग की जाएगी. इससे पहले भी आशीष कुमार 2018 में रिटायरमेंट लेने के लिए अर्जी दे चुका है. इसके अलावा भी सिपाही आशीष कुमार के खिलाफ अलग-अलग मामलों में शामिल होने के कारण कई बार कानूनी व विभागीय कार्रवाई भी की जा चुकी है.

भ्रष्टाचार को नहीं किया जाएगा सहन

एसपी शशांक कुमार सावन ने कहा कि हवलदार आशीष की तरफ से जो भी भ्रष्टाचार के इल्जाम, पुलिस की भागीदारी आदि मामले की गहराई से जांच की जाएगी. किसी भी सूरत में भ्रष्टाचार को सहन नहीं किया जाएगा, आरोपियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी.

Next Story