Movie prime

गृहमंत्री ने सिरसा के SP को आधी रात फोन कर जगाया, जानिए क्या है माजरा

Janata Darbar : हरियाणा के गृहमंत्री ने शनिवार को जनता से मिली एक-एक फरियाद को सुना और कई जिलों के एसपी को फोनकर सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए. उन्होंने कहा, अनिल विज के होते जनता रोये, यह मैं होने नहीं दूंगा.
 

चंडीगढ़ : हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज (Haryana Home minister Anil Vij) का जनता दरबार फरियादियों की बढ़ती संख्या के कारण शनिवार को मध्य रात्रि के एक बजे तक चला. जनता दरबार में गृहमंत्री अनिल विज ने देर रात फोन कर कई जिलों के एसपी को जगाया और समस्याओं का समाधान करने के लिए सख्त निर्देश दिए.

जनता दरबार में फरियादियों की इस शिकायत पर कि पुलिस कार्रवाई नहीं करती, विज ने अधिकारियों को कड़ी फटकार लगाई. रात एक बजे तक उन्होंने पंक्ति में खड़े अंतिम व्यक्ति की समस्या को बझी ध्यानपूर्वक सुना। उन्होंने फरियादियों की शिकायत पर कार्रवाई करते हुए बिलासपुर डीएसपी के रीडर, मुलाना थाने के तैनात एएसआई सहित कुल चार लोगों को सस्पेंड करने के निर्देश दिए. इसके अलावा उन्होंने कुल 10 से ज्यादा मामलों में एसआईटी गठित कर जांच के निर्देश दिए.

गृहमंत्री ने कहा, अनिल विज के होते जनता रोये, यह मैं होने नहीं दूंगा। कई मामलों में विज ने एसपी को सख्त हिदायतें दी कि फरियादियों के वापस घर पहुंचने से पहले कार्रवाई के निर्देश दिए. रात एक बजे तक चले दरबार में हजारों शिकायतें पहुंची, जिस वजह से शिकायतों का पूरा अंबार गृह मंत्री के टेबल पर लग गया.

एक शिकायत सुनने के बाद गृहमंत्री ने रात 12:30 बजे सिरसा के एसपी को फोन कर उठाया और बोले- मैं अनिल विज बोल रहा हूं, आज मेरा जनता कैंप लगा हुआ है और मेरे सामने एक व्यक्ति शिकायत लेकर खड़ा है. उन्होंने पूछा-मारपीट मामले में केस दर्ज होने के बावजूद भी पुलिस ने आरोपियों को अब तक गिरफ्तार क्यों नहीं किया. मंत्री विज ने एसपी को सख्त हिदायतें देते हुए इस मामले में कार्रवाई के निर्देश दिए.

इससे पहले रात 12:15 बजे गृहमंत्री ने एसपी पलवल को फोनकर मारपीट व धमकी देने के मामले में कार्रवाई के निर्देश दिए. फरियादी ने शिकायत देते हुए पुलिस पर आरोप लगाए थे कि नामजद 15 आरोपियों में से दो-तीन लोगों को ही अब तक गिरफ्तार किया गया है और आरोपी अब भी उसे धमकियां दे रहे हैं.

रात 12:05 बजे गृहमंत्री अनिल विज ने एसपी चरखी दादरी को फटकार लगाते हुए मामला दर्ज नहीं करने वाले पुलिस स्टाफ पर कार्रवाई के निर्देश दिए. फरियादी ने अपनी शिकायत में मंत्री विज को कहा था कि सड़क दुर्घटना मामले में आरोपियों की शिनाख्त होने के बावजूद अब तक न तो पुलिस ने केस दर्ज किया न ही आरोपियों को पकड़ा.

वहीं देर रात 11:15 बजे गृह मंत्री ने एसपी करनाल को फोन कर फटकार लगाई। फरियादी ने कहा था कि दहेज प्रताड़ना से तंग आकर महिला ने अपने दो बच्चों सहित नहर में छलांग लगा दी थी कि जिससे महिला की मौत हो गई थी. आरोप था कि इस मामले में पुलिस ने केस दर्ज होने के बावजूद कोई गिरफ्तारी नहीं की. मंत्री ने एसपी को निर्देश देते हुए कहा कि फरियादी के घर पहुंचने से पहले आरोपियों की गिरफ्तारी की जाए.

देर रात्रि 10:45 बजे गृह मंत्री ने पुलिस कमिश्नर पंचकूला को फोन कर फरियादी की शिकायत पर कार्रवाई के निर्देश दिए. फरियादी ने कहा कि धोखे से एक व्यक्ति ने उसे किराए पर मकान दिया और असली मकान मालिक ने उसका सामान फेंक दिया. इस मामले की शिकायत चार माह बाद पुलिस ने केस दर्ज नहीं किया. रात्रि 9:15 बजे फरियादी की शिकायत पर गृह मंत्री विज ने एसपी कुरुक्षेत्र को फोन कर मामले की जांच करने और मामले में ढिलाई बरतने वाले स्टाफ को सस्पेंड करने के निर्देश दिए. फरियादी ने मंत्री विज को शिकायत देते हुए बताया कि उसके पति का पैर आरोपियों ने काट दिया था, शाहबाद थाना पुलिस ने केस तो दर्ज किया, मगर आरोपियों की गिरफ्तारी अब तक नहीं हुई.

शाम 4 बजे तक आने वालों की सुनी जाएंगी समस्याएं

गृह मंत्री अनिल विज के जनता दरबार में हरियाणा के कोने-कोने से फरियादियों की बढ़ती भीड़ को देखते हुए अब अगले सप्ताह से शाम चार बजे तक आने वाले लोगों की ही सुनवाई होगी.