हरियाणवी डांसर सपना चौधरी की बढ़ी मुश्किल, गिरफ्तारी वारंट जारी, जानिये क्या है मामला ?

 | 
Sapna Choudhary

हरियाणा की मशहूर डांसर सपना चौधरी (Sapna Choudhary) की मुश्किलें बढ़ गई हैं। क्योंकि डांस प्रोग्राम रद्द करने और टिकट के पैसे न लौटाने के मामले में बुधवार को पेश नहीं होने पर कोर्ट ने डांसर सपना चौधरी के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया है। इसको लेकर कोर्ट ने आदेश जारी कर दिए हैं।

इस मामले में एसीजेएम शांतनु त्यागी ने मामले की अगली सुनवाई के लिए 22 नवंबर की तारीख तय की है। असल में मामले 2018 का है और सपना चौधरी ने लखनऊ में एक कार्यक्रम आयोजित करने के लिए करार किया था और पैसा लेने के बाद वह कार्यक्रम में नहीं पहुंची। इस मामले में सपना चौधरी के साथ ही आयोजकों के खिलाफ मामला दर्ज किया था।

जानकारी के मुताबिक 1 मई, 2019 को इस मामले में सपना चौधरी के खिलाफ विश्वास भंग करने और एक व्यक्ति को ठगने के मामले में चार्जशीट दाखिल की गई थी। सपना चौधरी के कार्यक्रम के आयोजक जुनैद अहमद, इवाद अली, अमित पांडे और रत्नाकर उपाध्याय के खिलाफ आईपीसी की धारा 406 और 420 के तहत चार्जशीट दाखिल की गई थी।

इसके बाद कोर्ट ने सपना सहित अन्य सभी आरोपियों के खिलाफ दाखिल चार्जशीट पर संज्ञान लिया था। इसी मामले में सितंबर में कोर्ट ने सपना चौधरी का डिस्चार्ज आवेदन खारिज कर दिया था। वहीं अब इस मामले में सपना समेत सभी आरोपियों के खिलाफ आरोप तय होने हैं।

जानिए क्या है मामला
जानकारी के मुताबिक सपना चौधरी का 13 अक्टूबर, 2018 को लखनऊ के स्मृति उपवन में दोपहर तीन बजे से रात 10 बजे तक कार्यक्रम होना था। इस कार्यक्रम के लिए सपना चौधरी और आयोजकों ने पैसे ले लिए, लेकिन वह कार्यक्रम में नहीं पहुंचे। जिसके बाद उनके खिलाफ मामला दर्ज किया गया।

इस मामले में केस दर्ज करने वाले ने आरोप लगाया है कि डांस प्रोग्राम रद्द करने के बाद टिकट के पैसे लौटाए नहीं गए। जिसके बाद 14 अक्टूबर, 2018 को एफआईआर दर्ज की गई थी।

कोर्ट में पेश नहीं हुई सपना
वहीं कोर्ट में पेश न होने के कारण सपना चौधरी की गिरफ्तारी का वारंट जारी किया गया है। जिसके बाद सपना चौधरी की मुश्किलें बढ़ गई हैं। हालांकि पिछले दिनों दिल्ली में सपना चौधरी के खिलाफ इसी तरह का मामला सामने आया था।