Movie prime

President Haryana Visit: हरियाणा के दौरे पर राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू , सिरसा को मिली मेडिकल कॉलेज की सौगात

 
Chandigarh News, Chandigarh News Today, Chandigarh News in Hindi, चंडीगढ़ समाचार, चंडीगढ़ न्यूज़, medical college, president, president droupadi murmu, president droupadi murmu 2 day visit, president droupadi murmu haryana visit, sirsa medical college, medical college in sirsa,Kurukshetra, President Droupadi Murmu, president visit to Haryana, International Gita Seminar, Mukhyamantri Swasthya Sarvekshan Yojana, Haryana e-ticketing projects

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू मंगलवार 29 नवंबर से हरियाणा के दो दिवसीय दौरे पर रहेंगी। इस दौरान वह कुरुक्षेत्र में अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव सहित विभिन्न कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगी। राष्ट्रपति भवन की ओर से सोमवार को जारी किए गए एक बयान के मुताबिक, राष्ट्रपति मंगलवार को अंतरराष्ट्रीय गीता संगोष्ठी की शोभा बढ़ाएंगी।

इस अवसर पर वह सभी सार्वजनिक सड़क परिवहन सुविधाओं के लिए मुख्यमंत्री स्वास्थ्य सर्वेक्षण योजना, हरियाणा ई-टिकटिंग परियोजनाओं का वर्चुअल रूप से शुभारंभ करेंगी। इसके अलावा सिरसा में एक मेडिकल कॉलेज की आधारशिला भी रखेंगी। इसके साथ ही राष्ट्रपति एनआईटी कुरुक्षेत्र के 18वें दीक्षांत समारोह को संबोधित करेंगी।

शाम को वह चंडीगढ़ में हरियाणा राजभवन में एक नागरिक अभिनंदन कार्यक्रम में शिरकत करेंगी। इसे हरियाणा सरकार की ओर से उनके सम्मान में आयोजित किया जाएगा। राष्ट्रपति भवन के बयान में कहा गया है कि 30 नवंबर को राष्ट्रपति मुर्मू दिल्ली लौटने से पहले आशा कार्यकर्ताओं, महिला पहलवानों, ओलंपिक खिलाड़ियों और अन्य खिलाड़ियों के साथ-साथ छात्राओं से बातचीत करेंगी।

सुरक्षा में 4000 पुलिस कर्मी तैनात

हरियाणा के पुलिस महानिदेशक पीके अग्रवाल, अतिरिक्त डीजीपी आलोक मित्तल के साथ राष्ट्रपति के दौरे के मद्देनजर सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा करने के लिए कुरुक्षेत्र गए हैं। राष्ट्रपति मुर्मू की सुरक्षा के लिए लगभग 4,000 पुलिस कर्मियों को तैनात किया गया है, जबकि ब्रह्मसरोवर क्षेत्र में 250 से अधिक सीसीटीवी कैमरों की मदद से निगरानी की जा रही है।

सिरसा को मिलेगी मेडिकल कॉलेज की सौगात, राष्ट्रपति कुरुक्षेत्र से करेंगी शिलान्यास
राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू मंगलवार को सिरसा जिले को मेडिकल कॉलेज की सौगात देंगी। वे कुरुक्षेत्र से इस मेडिकल कॉलेज का शिलान्यास करेंगी। यह मेडिकल कॉलेज करीब 1090 करोड़ रुपये की लागत से तैयार होगा। इससे सिरसा जिले व आसपास के अन्य क्षेत्रों की जनता को अत्याधुनिक स्वास्थ्य संबंधी सुविधाएं मिलेंगी।

उपायुक्त पार्थ गुप्ता ने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल प्रदेश के हर जिले में एक मेडिकल कॉलेज बनाने के लिए दृढ़ संकल्पित हैं। इसी कड़ी में सिरसा जिले के मेडिकल कॉलेज का निर्माण कार्य शुरू हो रहा है। राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय की स्थापना मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान को अधिक प्रोत्साहन देने और राज्य में लोगों को सर्वोत्तम स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करने के उद्देश्य से की जा रही है। 

539 बिस्तर के इस मेडिकल कॉलेज को करीब 22 एकड़ में बनाया जाएगा। इस पर करीब 1090 करोड़ की लागत आएगी तथा इसमें 100 एमबीबीएस की सीटें होंगी। सिरसा रेलवे स्टेशन से इसकी दूरी मात्र 2.6 किलोमीटर और सिरसा बस अड्डे से इसकी दूरी 1.9 किलोमीटर होगी।

सभी सुविधाओं से सुसज्जित होगा मेडिकल कॉलेज

सिरसा के इस मेडिकल कॉलेज में एमबीबीएस छात्र और इंटर्न हॉस्टल ब्लॉक बनाया जाएगा। लड़कों के लिए अलग (300 क्षमता) और लड़कियों के लिए (200 क्षमता) कुल 500 छात्रों और 100 इंटर्न को डबल सीटिंग में आवास प्रदान करने का प्रस्ताव दिया गया है। हॉस्टल ब्लॉक में रसोई और भोजन, जिम, योग कक्ष, मनोरंजन कक्ष, वाचनालय आदि जैसी सुविधाएं भी शामिल होंगी।

नर्सिंग कन्या छात्रावास में कुल 250 छात्राओं को डबल शेयरिंग में आवास उपलब्ध कराने का प्रस्ताव है। महाविद्यालय के निदेशक एवं चिकित्सा अधीक्षक के लिए परिसर में आवासीय सुविधा प्रस्तावित है। एकीकृत जूनियर और सीनियर रेजिडेंट छात्रावास ब्लॉक को 100 छात्रों (50 सीनियर रेजिडेंट और 50 जूनियर रेजिडेंट) को आवास प्रदान करने का प्रस्ताव दिया गया हैं।

मेडिकल कॉलेज में ये होंगे मुख्य विभाग

इस मेडिकल कॉलेज में चिकित्सा महाविद्यालय एवं अस्पताल हरियाणा राज्य और इसके पड़ोसी राज्यों जैसे पंजाब और राजस्थान को स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करेगा। इसमें एनाटॉमी, फिजियोलाजी, बायोकेमिस्ट्री, पैथोलॉजी, माइक्रोबायोलॉजी, फार्माकोलॉजी, फोरेंसिक मेडिसिन एवं टॉक्सिकोलॉजी और कम्युनिटी मेडिसन जैसे विभाग शामिल होंगे।

इसके साथ-साथ आपातकालीन चिकित्सा, हड्डी रोग, बाल रोग, मनोचिकित्सा, सामान्य शल्य चिकित्सा, श्वसन चिकित्सा, नेत्र विज्ञान, ओटोरहिनालरिंजोलाजी, सामान्य चिकित्सा, त्वचा विज्ञान, प्रसूति एवं स्त्री रोग, बर्न यूनिट, आईसीयू, पीआईसीयू, आईसीसी एनआईसीयू, जेल वार्ड, एआरटी वार्ड और निजी वार्ड भी होंगे।