Liquor Price Hike: हरियाणा में और भी महंगी होगी शराब, जानिए क्या है वजह

 | 
Liquor will not be cheaper in Haryana, but also more expensive, know why,haryana, liquor, drink , price hike

दिल्ली में चाहे सरकार ने शराब के रेट कम कर दिए हैं लेकिन हरियाणा में शराब पीने के शौकीनों के लिए सरकार को ही छूट देने के मूड में नहीं है। 

हालांकि कुछ राजनीतिज्ञों द्वारा दिए गए बयानों में कहा जा रहा है कि देश में महंगाई चरम पर है और रोजमर्रा के सामान के रेट बढ़ रहे हैं लेकिन सरकार को शराबियों की जनता है इसलिए सरकार शराब के रेटों में कमी ला रही।

 
इस बारे में कैथल उप आबकारी एवं कराधान आयुक्त सत्येंद्र कुमार श्योराण ने बताया की शराब के कैंपों में किसी तरीके की कमी नहीं की जाएगी उन्होंने कहा जब हम थे का रिजर्व प्राइज पिछले रेटों में 14 से 15% बढ़ा कर दे रहे हैं तो इसमें कोई शक नहीं है

कि जो भी ठेकेदार ठेका लेकर शराब के रेट भी बढ़ाएगा इसलिए शराब सस्ती होने की बातें केवल अफवाह है हरियाणा के खट्टर सरकार ने 6 मई की मंत्रिमंडल बैठक में 2022 23 के लिए नई आबकारी नीति को मंजूरी दी है इस बार सरकार ने शराब के ठेके के ग्रुप में 4 ठेकों में रखने का प्रावधान किया है।

अगर कैथल जिले की बात करें तो जिले में इस समय करीब 64 शराब अगले साल बढ़कर 68 या 78 ठेके होने की उम्मीद बताई जा रही हैं इस पर एक्साइज विभाग के अधिकारी कार्य कर रहे हैं और जल्द ही ग्रुपों के लिए टेंडर निकाले जा सकते हैं ग्रुप की बात करें तो 17 या 18 ग्रुप जिले में देखने को मिल सकते हैं।


 

उप आबकारी एवं कराधान आयुक्त सत्येंद्र कुमार श्योराण ने बताया कि पहले ग्रामीण व शहरी ग्रुप अलग अलग होते थे लेकिन इस बार संबंधित जिले के अधिकारी ठेकेदार की सुविधा अनुसार शहरी के अलग ग्रामीण के अलग शहरी व ग्रामीण किसी भी प्रकार के ठेकों के ग्रुप बनाकर उनके टेंडर करवा सकते हैं इससे शराब की अवैध तस्करी पर भी रोक लगेगी।