किसानों के लिए खुशखबरी: अब खेतों में रहेगी 7 घंटे बिजली, हरियाणा सरकार ने किया ये ऐलान

 | 
किसानों के लिए खुशखबरी: अब खेतों में रहेगी 7 घंटे बिजली, हरियाणा सरकार ने किया ये ऐलान

खरीफ फसल की बुवाई का समय है ऐसे में किसानों को सिंचाई और कृषि यंत्र चलाने के लिए बिजली की जरूरत पड़ती है। किसानों के हित को ध्यान में रखते हुए हरियाणा सरकार ने किसानों को तोहफा देने का काम किया है।

हरियाणा बिजली वितरण निगम ने खरीफ फसल को ध्यान में रखते हुए किसीनों के लिए बिजली की स्पलाई को बढ़ाकर 5 से 7 घंटे कर दिया है।

 जिससे किसानों को सिंचाई तथा अन्य खेतीहारी के कामों में मदद मिल सके। विभाग ने बिजली वितरण को 3 श्रेणी में रखा है, पहला सुबह 6 बजे से 1 बजे तक, दूसरा दोपहर 1 बजे से शाम 8 बजे तक, तथा तीसरा रात 2 बजे से सुबह 9 बजे तक, किसानों को इन्ही 3 श्रेणी के सयमनुसार बिजली मिलती रहेगी।

5 से बढ़कर 7 घंटे हुई बिजली की सप्लाई (Electricity supply increased from 5 hours to 7 hours)

बता दें कि इससे पहले बिजली की किल्लत से खेती फीडर पर सप्लाई कम कर दी गई थी, जिससे किसानों को खेतीबाड़ी के लिए केवल 2 से 3 घंटे तक बिजली मिलती थी।

इसके बाद किसानों को थोड़ी राहत देते हुए इसे बढ़ाकर 5 घंटे कर दिया गया था, जो कि पर्याप्त नहीं थी, लेकिन अब किसानों के लिए बिजली की सप्लाई 7 घंटे कर दी गई है।  
किसानों की मांग हुई पूरी (farmers demand over supply)

देश में बिजली की कम सप्लाई के चलते किसानों को खेत में सब्जी, तिलहन और चारे आदि की सिंचाई करने में दिक्कत हो रही थी। इसे लेकर किसानों की मांग थी कि खेती फीडर पर सप्लाई में इजाफा किया जाए।

किसानों की मांग को ध्यान में रखते हुए सप्लाई में बढ़ोत्तरी कर दी गई है।
किसान 15 जून से अपनी धान की खेती करेंगे शुरु (paddy cultivation starts from 15th June)

बता दें कि कृषि एवं किसान कल्याण विभाग की तरफ से धान की रोपाई पर रोक लगा रखी थी। रोक में कहा गया था कि किसान 15 जून के बाद ही अपनी धान की रोपाई/खेती शुरु कर सकते हैं।

किसान पहले से ही अपनी फसल की तैयारी में जुट गए हैं। ऐसे में विभाग की तरफ से बिजली की खपत में बढ़ोत्तरी से किसानों को फसल की सिंचाई तराई में कोई किल्लत नहीं होगी।