EPF से दोगुना निकाल सकते हैं पैसे, जानिए किसे दी गयी हैं ये सुविधा

साल 2020 में ईपीएफ से एडवांस में पैसे निकालने की सुविधा शुरू की गई थी। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत यह सुविधा शुरू हुई। कोविड इमरजेंसी में कोई कर्मचारी दो बार पीएफ खाते से एडवांस पैसे निकाल सकता है।
 | 
EPF Withdrawal Rules, EPFO, EPFO Interest Rate, PF account

कोविड महामारी (covid-19) की लहर तेज है। कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन ने कोरोना वायरस (coronavirus) की तीसरी लहर को अंजाम दिया है। हालांकि दूसरी लहर की तरह जानलेवा खतरे का अभी संकेत नहीं है, लेकिन सरकारी स्तर पर तैयारियां पूरी रखी गई हैं। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) ने भी अपने स्तर पर तैयारी पूरी रखी है। कोरोना के शिकार और बदलाव आर्थिक स्थिति के मद्देनजर ईपीएफओ ने कर्मचारियों को दोगुने तक पैसे निकालने की अनुमति दी है।

ओमिक्रॉन की स्थिति को देखते हुए आशंका है कि लोगों की दुश्वारियां बढ़ सकती हैं। ईपीएफ से जुड़े कर्मचारी विपरीत परिस्थितियों में रुपये-पैसे का काम चला सकें, इसके लिए EPFO ने दूसरी लहर में दो बार नॉन रिफंडेबल एडवांस निकालने की अनुमति दी थी। कोरोना से पैदा हुई इमरजेंसी में कर्मचारी अपने ईपीएफ अकाउंट से एडवांस में पैसे निकाल सकते हैं। अभी यह सुविधा दोगुना तक या दो बार एडवांस पैसे निकालने की मिल रही है। कोरोना से परेशान कर्मचारी इस फंड को निकाल सकता है। पहले एडवांस निकालने की सुविधा बस एक बार ही मिलती थी।


कब शुरू हुई सुविधा
ईपीएफ (EPF) से पैसे निकालने की सुविधा सबसे पहली बार मार्च 2020 में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना या PMGKY के अंतर्गत मिली थी। नियम के मुताबिक, ईपीएफओ मेंबर अपने पीएफ खाते से तीन महीने की बेसिक सैलरी और डीए का पैसा निकाल सकते हैं। या अपने ईपीएफ अकाउंट बैलेंस का 75 फीसदी हिस्सा, दोनों में जो भी कम हो, वह राशि निकाली जा सकती है। ईपीएफ मेंबर चाहे तो कम पैसे के लिए भी अप्लाई कर सकता है। आइए जानते हैं कि पीएफ के पैसे के लिए ऑनलाइन अप्लाई कैसे कर सकते हैं।

स्टेप 1- मेंबर ई-सेवा पोर्टल https://unifiedportal-mem.epiindia.gov.in/memberinterface/ पर विजिट करें
स्टेप2- अपना यूएएन, पासवर्ड और कैप्चा कोड दर्ज करके अपने खाते में लॉगिन करें
स्टेप 3: ऑनलाइन सेवाओं पर जाएं और दावा चुनें (फॉर्म -31, 19,10सी और 10डी)
स्टेप 4: आपकी स्क्रीन पर एक नया वेबपेज दिखाई देगा जिसमें आपके सभी विवरण जैसे नाम, जन्म तिथि और आपके आधार नंबर के अंतिम चार अंक होंगे। वेबपेज आपसे अपना बैंक खाता नंबर दर्ज करने के लिए कहेगा। जो जगह बनी हो उसमें अपना बैंक खाता नंबर दर्ज करें और verify पर क्लिक करें। आपकी स्क्रीन पर एक पॉप-अप दिखाई देगा, जो आपसे ‘सर्टिफिकेट ऑफ अंडरटेकिंग’ देने के लिए कहेगा।
स्टेप 6: ड्रॉप डाउन मेनू से, आपको ‘पीएफ एडवांस (फॉर्म 31)’ का चयन करना होगा
स्टेप 7: आपको ड्रॉप डाउन मेनू से ‘महामारी का प्रकोप (COVID-19)’ के रूप में पैसे निकालने का चयन करना होगा
स्टेप 8: आवश्यक राशि दर्ज करें और चेक की स्कैन की गई कॉपी अपलोड करें और अपना पता दर्ज करें
स्टेप 9: आधार के साथ पंजीकृत आपके मोबाइल नंबर पर एक वन-टाइम पासवर्ड (ओटीपी) भेजा जाएगा
स्टेप 10: एसएमएस के माध्यम से आपको जो ओटीपी मिला है, उसे दर्ज करें
एक बार ओटीपी सफलतापूर्वक दर्ज किए जाने के बाद आपकी क्लेम रिक्वेस्ट भी सबमिट कर दी जाएगी। आपने क्लेम फॉर्म में जो जानकारी दी है उसे ईपीएफओ वेरिफाई करेगा और सबकुछ सही पाए जाने के बाद आपके बैंक खाते में पैसा ट्रांसफर कर दिया जाएगा।