Google News

Mahindra Scorpio-N की सामने आई ये बड़ी जानकारी, बुकिंग से पहले जान लें 5 बड़ी खामियां, नहीं तो होगा नुकसान

Admin
9 Aug 2022 12:59 PM GMT
Mahindra Scorpio-N की सामने आई ये बड़ी जानकारी, बुकिंग से पहले जान लें 5 बड़ी खामियां, नहीं तो होगा नुकसान
x
Mahindra Scorpio-N: कोई भी वाहन परफेक्ट नहीं होता। तो, बहुत सारी विशेषताओं के अलावा, महिंद्रा की स्कॉर्पियो-एन में कुछ कमियां भी हैं। अगर आप भी महिंद्रा की नई स्कॉर्पियो-एन की बुकिंग करने की सोच रहे हैं तो सबसे पहले आइए जानते हैं इस एसयूवी की 5 खामियों के बारे में।

Mahindra Scorpio-N की बुकिंग से पहले जान लें ये 5 बातें: Mahindra Scorpio-N को ग्राहकों का शानदार रिस्पॉन्स मिल रहा है. इसकी बुकिंग 30 जुलाई से शुरू हुई थी और तभी से ग्राहकों ने इसकी बुकिंग शुरू कर दी थी. इसे एक घंटे में 1 लाख बुकिंग मिली।

कोई भी कार परफेक्ट नहीं होती। तो, बहुत सारी विशेषताओं के अलावा, महिंद्रा की स्कॉर्पियो-एन में कुछ कमियां भी हैं। अगर आप भी महिंद्रा की नई स्कॉर्पियो-एन की बुकिंग करने की सोच रहे हैं तो सबसे पहले आइए जानते हैं इस एसयूवी की 5 खामियों के बारे में।

माइलेज:

महिंद्रा के स्कोपियो एन में 2.2-लीटर एमहॉक डीजल इंजन और 2.0-लीटर एमस्टैलियन पेट्रोल इंजन मिलता है। दोनों इंजन मैनुअल और 6-स्पीड ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन से जुड़े हैं। ये दोनों इंजन दमदार पावर और टॉर्क देते हैं।

ऐसे में आपको माइलेज से समझौता करना होगा। अगर आप ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन वाले पेट्रोल इंजन वाले वेरिएंट को चुनते हैं, तो आप 11 से 12 kmpl के माइलेज की उम्मीद कर सकते हैं। वहीं डीजल इंजन भी इससे थोड़ा ज्यादा माइलेज देने में सक्षम होगा।

प्रतीक्षा अवधि:

Mahindra XUV 700 को खरीदने वाले ग्राहकों को भी लंबे वेटिंग पीरियड का सामना करना पड़ा. कुछ ऐसा ही स्कॉर्पियो-एन के साथ भी होने वाला है। एसयूवी को पहले 1 घंटे में ही 1 लाख बुकिंग मिल गई। कंपनी ने कहा था कि शुरुआती 25 हजार बुकिंग दिसंबर तक डिलीवर की जानी है। जबकि इसके बाद हुई बुकिंग को लेकर अभी तक कोई दावा नहीं किया गया है।

तीसरे रॉ की जगह:

3 रॉ वाली SUVs के साथ इस तरह की समस्या हमेशा बनी रहती है. कंपनियां चाहे जो भी दावा करें, तीसरी पंक्ति के यात्रियों को लेग रूम पर समझौता करना पड़ता है। यही हाल महिंद्रा स्कॉर्पियो-एन का भी है। पीछे की सीटें आमतौर पर बच्चों के लिए अच्छी होती हैं। वयस्क यहां बैठकर लंबी दूरी तय नहीं कर पाएंगे।

बूट स्पेस:

7 सीटर गाड़ियों में बूट स्पेस की भी समस्या होती है. स्कॉर्पियो एन में भी आपको काफी सीमित बूट स्पेस दिया गया है। यह एक बड़ी कार है, जिसे खासतौर पर लंबी यात्राओं के लिए बनाया गया है। लेकिन छह-सात लोगों के बैठने के बाद सामान रखने के लिए ज्यादा जगह नहीं बचेगी। हालांकि आप छत का उपयोग कर सकते हैं।

महिंद्रा का सर्विस नेटवर्क फिलहाल तो ठीक है, लेकिन भविष्य में दिक्कतें बढ़ने की संभावना है। कंपनी की बिक्री लगातार बढ़ रही है। थार और एक्सयूवी700 की बिक्री चरम पर थी, अब नई स्कॉर्पियो से लोड बढ़ेगा। ऐसे में महिंद्रा को अपने सर्विस नेटवर्क का विस्तार करने की जरूरत है, नहीं तो ग्राहकों को समय-समय पर परेशानी हो सकती है।

Next Story