बिजली चोरी के इस कारनामे को देख चकरा जाएगा सिर, कभी नहीं देखी होगी ऐसी चोरी

 | 
बिजली चोरी के इस कारनामे को देख चकरा जाएगा सिर, कभी नहीं देखी होगी ऐसी चोरी

Nagaur: राजस्थान जिले में बिजली चोरी करने के कारनामे देख विजिलेंस टीम उस वक्त हैरान रह गई जब एक साथ दर्जनों इलाके में एक साथ छापेमारी की. इस छापेमारी में एक नहीं दो नदीं बल्कि 21 अवैध ट्रांसफार्मर जब्त किये. जीहां आप भी इस बिजली चोरी के नायाब तरीके को देख हैरान रह जाएंगे. जिले के मुंडवा उपखण्ड क्षेत्र के गांवों में आज डिस्कॉम की विजिलेंस टीम ने ताबड़तोड़ कार्रवाई करते हुए 21 अवैध ट्रांसफार्मर जब्त किये हैं.

डिस्कॉम कर्मचारियों को भी भनक नहीं 
बिजली चोरी की लगातार मिल रही शिकायतों पर विजिलेंस टीम ने इस कार्रवाई से डिस्कॉम कार्यालय के कर्मचारियों को भी इसकी भनक नहीं लगने दी. गोपनीय तरीके अब पूरी टीम बनाई गई ताकि किसी भी प्रकार की सूचना लीक ना होने पाए. डिस्कॉम के उच्चाधिकारियों के निर्देश पर की गई इस कार्रवाई में 21 अवैध ट्रांसफार्मर जब्त किए गए, वहीं वीसीआर भर कर भारी जुर्माना भी लगाया गया. डिस्कॉम द्वारा पुरे लवाजमे के साथ विशेष टीम बनाकर क्षेत्र के खजवाना, जनाणा, शंखवास, झुझण्डा,  ढाढ़रिया, इंदोकली, ग्वालु में यह कार्यवाही की गई.


जान जोखिम में डालकर बिजली चोरी
विजिलेन्स टीम तब दंग रह गई जब खजवाना में उसे बीजली चोरी का अजीबो गरीब तरीका देखने को मिला. यहां एक किसान ने बिजली चोरी के लिए पूरा अंडरग्राउंड सिस्टम तैयार कर रखा था, यहां तक कि ट्रांसफार्मर को भी छह फीट गहरे में छुपा कर रखा हुआ था. इसके लिए 200 फीट केबल को भी अंडरग्राउंड ही खींचा गया था. लेकिन बिजली चोर कितने भी शातिर हो विजिलेन्स कि टीम से नहीं बच सकते. जमीन में दफन इस ट्रांसफार्मर को निकालने में विजिलेन्स टीम को खासी मशक्कत करनी पड़ी.

विजिलेन्स टीम को कई स्थानों पर विरोध का सामना करना पड़ा
बिजली चोरी पकड़ने गई विजिलेन्स टीम को कई स्थानों पर विरोध का भी सामना करना पड़ा हालांकि बाद में ग्रामीणों की समझाईस से ही विरोध की कोई बड़ी घटना नहीं हो पाई. डिस्कॉम अधिकारियों का कहना है कि बिजली चोरी किसी भी हाल में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा और आने वाले दिनों में ऐसी कार्रवाई लगातार जारी रहेगी, ताकि बिजली चोरी को रोका जा सके.