रंगरेलियां मनाते पकड़ा प्रेमी जोड़ा... गांव वालों ने ऐसे उतारा इश्‍क का भूत...

 | 
Jharkhand Crime News

Jharkhand Crime प्रेमी जोड़े को चोरी-छिपे इश्‍क लड़ाना भारी पड़ गया। झारखंड के पाकुड़ में आपत्तिजनक हालत में पकड़े गए एक प्रेमी जोड़े को लोगों ने पहले बंधक बना लिया गया। इसके बाद सैंकड़ों ग्रामीणों की भीड़ ने सरेआम उनकी इज्‍जत उतारी, फिर उनपर आर्थिक जुर्माना लगाकर छोड़ा। घटना पाकुड़ के महेशपुर प्रखंड के नारायणगढ़ गांव की है। जहां गांव के बधार, बहियार में शनिवार को आपत्तिजनक हालत में ग्रामीणों ने एक प्रेमी जोड़ा को संबंध बनाते रंगे हाथ पकड़ लिया।


पकड़ी गई महिला आदिवासी है। वह पहले से विवाहित है। वहीं उसका प्रेमी मुस्लिम युवक है। ग्रामीणों ने दोनों को गांव के मैदान में घंटों बंधक बनाकर रखा। देर तक पंचायती हुई। इस बीच सैकड़ों ग्रामीणों की भीड़ मैदान में जुट गई। प्रेमी युगल के आपत्तिजनक स्थिति में पकड़े जाने की सूचना फैलते ही धड़ाधड़ वीडियो बनाया जाने लगा। पूछताछ में मुस्लिम युवक ने अपना नाम कामरुल शेख बताया है। वह अनूपडंगा रामपुर गांव का निवासी है।


गैर धर्म के प्रेमी के साथ पकड़ी गई आदिवासी महिला पाकुड़ के लोबडीहा गांव की रहने वाली है। उसके प्रेमी कामरुल शेख ने ग्रामीणों को बताया कि यह आदिवासी महिला शराब बेचती है। शराब पीने के लिए वह हमेशा उसके पास जाता है। दोनों के बीच नजदीकियां बढ़ीं तो अवैध संबंध स्थापित हो गया। इसके बाद से अक्‍सर वे एकांत में संबंध बनाते रहे हैं।

प्रेमी जोड़े ने बताया कि दोनों नारायणगढ़ गांव के बधार, बहियार में पहले से आते रहे हैं। लेकिन आज बदकिस्‍मती से दोनों पकड़े गए। ग्रामीणों की नजर उन दोनों पर जब पड़ी तो वे दोनों आपत्तिजनक स्थिति में थे। युवक के मुस्लिम समाज से और महिला के आदिवासी समाज से होने के चलते पंचायत ने दोनों पर आर्थिक जुर्माना लगाया।


ग्रामीणों ने बताया कि आदिवासी समाज और परंपरा के अनुसार प्रेमी जोड़ा पर आर्थिक जुर्माना लगाकर छोड़ दिया गया। दोनों को सरेआम गंदा काम करते देखने के बाद उन्‍हें बंधक बनाया गया। दोनों के साथ मारपीट नहीं की गई है। थाना प्रभारी सुनील कुमार रवि ने बताया कि प्रेमी जोड़े को बंधक बनाए जाने की सूचना मिली है। गांव वालों से पूछताछ की गई है। पूरी घटना की छानबीन कर आगे की कार्रवाई की जाएगी।