ये हैं ऊंटनी के दूध की कहानी… ऐसा क्या हैं खाश जो बिक रहा है महंगे दाम में, जानिए

ऊंटनी का दूध अब बिजनेस का अहम जरिया बन रहा है. उत्पादन कम होने और दूध के कई फायदे होने की वजह से इसकी कीमत भी काफी ज्यादा है. ऐसे में जानते हैं कि ऊंटनी के दूध से खास बातें.

 | 
Know About Camel Milk Business And why is it so expensive and What are the benefits of this Milk

ऊंटनी का दूध (Camel Milk) अब काफी लोकप्रिय हो रहा है। जिसे पहले बिल्कुल तवज्जो नहीं दी जाती थी, वो दूध अब 30 डॉलर प्रति लीटर के हिसाब से बिक रहा है यानी एक लीटर दूध के लोग करीब 2500 रुपये (Camel Milk Rate) तक दे रहे हैं। ऐसे में जानते हैं कि ऊंटनी के दूध में ऐसा क्या है कि यह इतना महंगा बिक रहा है और किस तरह से लोग इसका बिजनेस कर रहे हैं। जानते हैं इससे जुड़ी हर एक बात।।

300 टन ऊंटनी के दूध का उत्पादन- बिजनेस इनसाइडर की एक रिपोर्ट के अनुसार, ऊंट का दूध हो सकता है कि गाय के दूध जितना प्रचलित और मशहूर न हो। एक आंकड़े के मुताबिक पूरी दुनिया में हर साल 600 मिलियन टन गाय के दूध का उत्पादन होता है। इसमें हर साल मात्र 3 मिलियन टन दूध ही ऊंटनी (Camel milk) का होता है। कम उत्पादन के बावजूद पूरे अफ्रीका और मध्य पूर्व में ऊंटनी के दूध की बहुत मांग है।

सोमालिया-केन्या में सबसे ज्यादा प्रोडक्शन- सोमालिया और केन्या जैसे देश में 64 परसेंट ऊंटनी का दूध पैदा किया जाता है। यहां ऊंट के कई फार्म काम कर रहे हैं और जहां से दूध का उत्पादन हो रहा है और उन्हें शहरों में भेजा जाता है। अब गांवों में चारे का सामान भी कम हो रहा है, जिसके बाद लोग ऊंटों को अच्छा चारा देकर अच्छा बिजनेस कर रहे हैं। मध्य पूर्व की बात करें ऊंटनी के दूध की मांग तेजी से बढ़ रही है लेकिन उस हिसाब से सप्लाई नहीं है।

किस तरह से फायदेमंद है?- इसमें सैचुरेटेड फैट की मात्रा बहुत कम होती है। अन्य दूध की अपेक्षा इसमें 10 गुना ज्यादा विटामिन सी होता है, पोटेसियम की मात्रा बहुत ज्यादा होती है। इन फायदों की वजह से दुनिया के कई लोग ऊंटनी के दूध का इस्तेमाल वैकल्पिक दवा के तौर पर करते हैं।

बिजनेस का बन रहा है जरिया- अब ये बिजनेस का अहम जरिया बन रहा है और लोग ऊंटनी का पालन करके महंगे दाम में दूध बेच रहे हैं। अफ्रीकन देशों में तो भले ही इसकी रेट कम है, लेकिन कई देशों में तो 30 डॉलर प्रति लीटर के हिसाब से इसे बेचा जा रहा है। सेहत के लिए फायदेमंद होने के साथ इससे कई तरह के प्रोडक्ट बनते हैं, जिसमें चीजे आदि शामिल है। इसलिए अब बाजार में भी इसकी बिक्री हो रही है।

क्यों होता है इतना महंगा- इसके महंगे होने का कारण ये है कि एक तो इनकी संख्या कम है और दूध का उत्पादन काफी कम है। एक दिन में औसतन एक गाय 50 लीटर तक दूध दे सकती है, जबकि ऊंटनी 6-7 लीटर तक दूध देती है। 3 साल में एक गाय 50 हजार लीटर तक दूध दे सकती है, जबकि ऊंटनी इसी अवधि में अधिकतम 4-7 हजार लीटर दूध दे सकती है। इसलिए इसकी रेट काफी ज्यादा है।