Airtel के बाद VI का बड़ा ऐलान- 25 नवंबर से महंगे हो जाएंगे प्लान, देखिये होने वाली बढ़ोतरी की पूरी लिस्ट

 | 
Vodafone Idea

एयरटेल के बाद वोडाफोन-आइडिया ने भी मोबाइल दरें बढ़ाने का ऐलान कर दिया है। कंपनी ने मंगलवार (23 नवंबर, 2021) को जारी बयान में कहा कि वह 25 फीसदी तक दरें बढ़ाने जा रही है और नए टैरिफ 25 नवंबर से लागू होंगे।

वीआई की विज्ञप्ति के मुताबिक, “वीआईएल ने देश में प्रीपेड यूजर्स के लिए नए टैरिफ प्लान्स को लॉन्च करने का ऐलान किया है। यह नए प्लान 25 नवंबर, 2021 से अमल में आएंगे। ये इंडस्ट्री में आने वाली वित्तीय चुनौतियों से निपटने में मदद करने के साथ एआरपीयू सुधार की प्रक्रिया की शुरुआत करेंगे।

कंपनी की ओर से इसमें आगे बताया गया कि 28 दिन की वैधता वाला 79 रुपए का टैरिफ प्लान अब 99 रुपए, 149 रुपए वाला पैक 179 रुपए, 219 रुपए वाला प्लान 269 रुपए, 249 रुपए पैक 299 रुपए, 299 रुपए वाला प्लान 359 रुपए, 56 दिन की वैलिडिटी वाला 399 रुपए का प्लान 479 रुपए और 449 रुपए वाला प्लान 539 रुपए में मिलेगा।

रोचक बात है कि वीआई की ओर से यह ऐलान प्रतिद्वंदी कंपनी एयरटेल की उस घोषणा के ठीक एक दिन बाद किया गया, जिसमें कंपनी ने प्रीपेड पेशकश के लिए 20-25 प्रतिशत तक टैरिफ बढ़ाने का ऐलान किया था, जिसमें टैरिफ वॉयस प्लान, असीमित वॉयस बंडल और डेटा टॉप अप शामिल हैं। शुरुआती स्तर के वॉयस प्लान में लगभग 25 फीसदी की बढ़ोतरी की गई है, जबकि अनलिमिटेड वॉयस बंडल के ज्यादातर मामलों में बढ़ोतरी लगभग 20 फीसदी है।

इन लडकियों को गूगल दे रहा हैं 74000 रुपए की स्कालरशिप, बस यहां करें आवेदन, अंतिम तिथि नजदीक

कंपनी ने कहा था कि उसने हमेशा यह सुनिश्चित किया है कि मोबाइल प्रति उपयोगकर्ता औसत राजस्व (एआरपीयू) 200 रुपये और आखिरकार 300 रुपये होना चाहिए, ताकि पूंजी पर उचित प्रतिफल मिल सके। एयरटेल के बयान के मुताबिक, ‘‘हम यह भी मानते हैं कि एआरपीयू के इस स्तर से नेटवर्क और स्पेक्ट्रम में जरूरी पर्याप्त निवेश किया जा सकेगा। इससे भी महत्वपूर्ण बात यह है कि इससे एयरटेल को भारत में 5जी लागू करने के लिए मदद मिलेगी।’’

एयरटेल ने कहा कि उसके नए टैरिफ 26 नवंबर 2021 से लागू होंगे। शुरुआती वायस प्लान का टैरिफ 28 दिनों की वैधता के साथ मौजूदा 79 रुपये की जगह अब 99 रुपये होगा। इसमें 50 प्रतिशत अधिक टॉकटाइम (99 रुपये), 200 एमबी डेटा और एक पैसा प्रति सेंकेंड का वॉयस टैरिफ जैसे लाभ शामिल हैं।