Petrol-Diesel Price: तेल कंपनियों ने जारी किये पेट्रोल-डीजल के दाम, फटाफट यहां चेक करें ताजा अपडेट

 | 
Petrol Diesel price

Petrol-Diesel Price Today 19th June: आज (19 जून) के लिए पेट्रोल-डीजल के नए जारी कर दिए गए हैं. सरकारी तेल कंपनियों ने लगातार 30वें दिन पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कोई बदलाव नहीं किया है, जो कि लोगों के लिए बड़ी राहत की बात है. आखिरी बार 21 मई को पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बदलाव हुआ था.

सरकार ने दी बड़ी राहत

बता दें कि बढ़ती महंगाई के बीच केंद्र सरकार ने बीते 21 मई को लोगों को बड़ी राहत दी थी. सरकार ने पेट्रोल-डीजल पर एक्साइड ड्यूटी कम की थी. सरकार ने पेट्रोल पर 8 रुपये और डीजल पर 6 रुपये एक्साइज ड्यूटी में कटौती की. इसके बाद देशभर में पेट्रोल 9.50 रुपये और डीजल 7 रुपये प्रति लीटर सस्ता हो गया था. केंद्र सरकार के इस फैसले के बाद कुछ राज्यों ने भी वैट कम किया. इसमें राजस्थान, केरल और महाराष्ट्र सरकार शामिल हैं.

क्या है आज का भाव?

– दिल्ली पेट्रोल 96.72 रुपये और डीजल 89.62 रुपये प्रति लीटर
– मुंबई पेट्रोल 111.35 रुपये और डीजल 97.28 रुपये प्रति लीटर


– चेन्नई पेट्रोल 102.63 रुपये और डीजल 94.24 रुपये प्रति लीटर
– कोलकाता पेट्रोल 106.03 रुपये और डीजल 92.76 रुपये प्रति लीटर


– नोएडा में पेट्रोल 96.57 रुपये और डीजल 89.96 रुपये प्रति लीटर
– लखनऊ में पेट्रोल 96.57 रुपये और डीजल 89.76 रुपये प्रति लीटर
– जयपुर में पेट्रोल 108.48 रुपये और डीजल 93.72 रुपये प्रति लीटर


– तिरुवनंतपुरम में पेट्रोल 107.71 रुपये और डीजल 96.52 रुपये प्रति लीटर
– पोर्टब्‍लेयर में पेट्रोल 84.10 रुपये और डीजल 79.74 रुपये प्रति लीटर
– पटना में पेट्रोल 107.24 रुपये और डीजल 94.04 रुपये प्रति लीटर


– गुरुग्राम में 97.18 रुपये और डीजल 90.05 रुपये प्रति लीटर
– बेंगलुरु में पेट्रोल 101.94 रुपये और डीजल 87.89 रुपये प्रति लीटर


– भुवनेश्वर में पेट्रोल 103.19 रुपये और डीजल 94.76 रुपये प्रति लीटर
– चंडीगढ़ में पेट्रोल 96.20 रुपये और डीजल 84.26 रुपये प्रति लीटर
– हैदराबाद में पेट्रोल 109.66 रुपये और डीजल 97.82 रुपये प्रति लीटर


देश में चल रही है पेट्रोल-डीजल की शॉर्टेज

इन दिनों देश के कई राज्यों में पेट्रोल-डीजल का शॉर्टेज चल रहा है. एक्सपर्ट्स के मुताबिक ऐसे हालात दुनियाभर में बन रहे हैं. ऐसा बताया जा रहा है कि देश में कच्चे तेल की किल्लत नहीं है. लेकिन उसे रिफाइन करके पेट्रोल-डीजल बनाने और पंपों तक पहुंचाने में दिक्कत हो रही है. देश में पेट्रोल-डीजल की जितनी डिमांड है, उतना तेल पंपों तक नहीं पहुंच पा रहा है. ऐसा माना जा रहा है कि एक से दो महीनों में ये समस्या हल हो जाएगी.