PM Kisan सम्मान योजना में बड़ा फेरबदल, किस्त स्टेटस चेकिंग का बदल गया है तरीका, अब इस तरह कर सकते हैं चेक

 | 
PM Kisan
पीएम किसान योजना को लेकर किसानों के खाते में 10वीं किस्‍त भेजी गई है। हालाकि कई किसानों के खाते में में अभी यह राशि नहीं भेजी गई है, जो इस महीने के अंत तक आ सकती है। वहीं पीएम किसान सम्मान निधि योजना को लेकर एक सुविधा में बदलाव किया गया है। जिससे इस योजना के तहत आवेदन करने वाले 12.44 करोड़ किसान प्रभावित होंगे। इस बदलाव से योजना लाभर्थियों को थोड़ी सी असुविधा हो सकती है। हालाकि वे दूसरे तरीके से इस सुविधा का लाभ उठा सकते हैं। आइए जानते हैं क्‍या है यह बदलाव।

क्‍या किया गया है बदलाव?
पीएम किसान योजना के तहत लोगों को सुविधा दी गई है कि वे अपने किस्‍त का स्‍टेटस चेक कर सकते हैं। इसके लिए इसके तीन विकल्‍प दिया जाता था। किसान अपने आधार कार्ड, मोबाइल नंबर व बैंक अकाउंट नंबर से अपने किस्‍त के स्‍टेटस की जांच कर सकते थे। लेकिन अब इसमें मोबाइल नंबर से स्‍टेटस को चेक करने वाली सुविधा को हटा दिया गया है। हालाकि पीएम किसान योजना की अधिकारिक वेबसाइट पर किसान आधार कार्ड नंबर और बैंक खाता नंबर से स्‍टेटस जांच सकते हैं।
 
क्‍यों किया गय बदलाव
पीएम किसान योजना में मोबाइल नंबर से स्‍टेटस की जांच करना आसान प्रक्रिया है, फिर भी इसे लेकर बदलाव कर दिया गया है। इसका एक कारण यह भी हो सकता है कि आपका मोबाइल नंबर से कोई भी आपके खाते का स्‍टेटस चेक कर सकता था और इसका दुरुप्रयोग भी कर सकता था, लेकिन अब इस बदलाव से लोगों को राहत मिलेगी।

इन किसानों को वापस करनी होगी धनराशि
पीएम किसान योजना के तहत जारी किए गए आंकड़े के अनुसार यूपी में 7 लाख किसानों को पीएम किसान योजना के तहत मिल चुकी 10वीं किस्‍त का पैसा वापस करना होगा। क्‍योंकि ये किसान या तो इनकम टैक्‍स रिटर्न भरते हैं या फिर इसके लिए योग्‍य नहीं है। विधानसभा चुनाव से पहले अगर ये किसान पैसे वापस नहीं करते हैं तो इन्‍हें नोटिस भेजा जाएगा।

बता दें कि पीएम किसान योजना के तहत किसानों के खाते में हर साल 6000 रुपये भेजे जाते हैं। ये रकम 2000 रुपये चार महीने पर तीन किस्‍तों में दी जाती है। अब तक इस योजना के तहत 10 किस्‍त जारी की जा चुकी है।