खेत-खलियान

इन किसानों को 60 लाख रुपये का पुरस्कार बांटेगी हरियाणा सरकार, जानिये कैसे और कब तक करें आवेदन

Editor
7 Jan 2022 5:30 AM GMT
इन किसानों को 60 लाख रुपये का पुरस्कार बांटेगी हरियाणा सरकार, जानिये कैसे और कब तक करें आवेदन
x
इन किसानों को 60 लाख रुपये का पुरस्कार बांटेगी हरियाणा सरकार, जानिये कैसे और कब तक करें आवेदन

आप खेती-किसानी से जुड़े अच्छे अपने कामों को दिखाकर पांच लाख रुपये का अवार्ड पा सकते हैं. लेकिन अब इसके लिए अप्लाई करने के लिए समय बहुत कम बचा है. इसलिए जल्दी करिए. एक सप्ताह के भीतर आवेदन कर दीजिए. हम बात कर रहे हैं ‘मुख्यमंत्री प्रगतिशील किसान सम्मान योजना’ (Mukhyamantri Pragatisheel Kisan Samman Yojana) की, जिसे हरियाणा सरकार ने शुरू किया है. यही नहीं 88 किसानों को 50-50 हजार रुपये का अवार्ड भी मिलेगा. सरकार कुल 96 किसानों को 60,00,000 रुपये का पुरस्कार बांटेगी. राज्य एवं जिला स्तर पर प्रगतिशील किसानों को सम्मानित करने का प्लान है. ताकि दूसरे किसान भी इससे प्रेरित होकर खेती-किसानी में नए आइडिया के साथ काम करके मिसाल कायम करें.

हरियाणा सरकार ने मुख्यमंत्री प्रगतिशील किसान सम्मान योजना (farmers Award) के लिए ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किया है. हरियाणा में लगभग 22 लाख किसान हैं. यहां के किसान अन्य राज्यों के मुकाबले खेती के नए तौर-तरीकों को अपनाने में आगे हैं. इसलिए किसानों की आय के मामले में यह देश में दूसरे नंबर पर है. अब सरकार चाहती है कि प्रगतिशील किसानों को प्रमोट करके पारंपरिक तौर पर खेती करने वाले किसानों को भी जगाया जाए.

कब है आवेदन की अंतिम तारीख
राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने बताया कि अवार्ड के लिए आवेदन करने की अंतिम तारीख 15 जनवरी है. फसलों की उच्च उत्पादकता प्राप्त करने के साथ-साथ पानी की बचत, फसल अवशेष प्रबंधन, जैविक खेती (Organic farming), एकीकृत कृषि प्रणालियों व टिकाऊ कृषि जैसी नवीनतम तकनीकी को अपनाने वाले किसानों को इस योजना के तहत पुरस्कृत किया जाएगा. राज्य एवं जिला स्तर पर सम्मान होगा. कोशिश यह है कि अवार्ड पाने वाले किसानों के जरिए दूसरे किसान भी कृषि में नई टेक्नोलॉजी के लिए प्रेरित हों.

अवार्ड के लिए कमेटी गठित
प्रवक्ता ने बताया कि अवार्ड के इच्छुक प्रगतिशील किसान कृषि विभाग की वेबसाइट (www.agriharyana.gov.in) पर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं. इस बारे में किसान सोमवार से शुक्रवार सुबह 9 से शाम 5 बजे तक कृषि विभाग के टोलफ्री नंबर (1800 180 2117) पर भी संपर्क कर सकते हैं. पुरस्कार चयन के लिए राज्य स्तर पर कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के महानिदेशक तथा जिला स्तर पर उपायुक्त की अध्यक्षता में कमेटी का गठन किया गया है. प्रगतिशील किसानों की पहचान करके उनसे अनुरोध किया जाएगा कि वे अपने 10 और साथी किसानों को खेती-किसानी में नई तकनीक अपनाने के लिए प्रेरित करें.

किसे कितना पैसा मिलेगा?
एक प्रगतिशील किसान को राज्य स्तर पर प्रथम पुरस्कार के रूप में पांच लाख रुपये, द्वितीय पुरस्कार के रूप में दो किसानों को तीन-तीन लाख रुपये तथा तृतीय पुरस्कार के लिए पांच किसानों को एक-एक लाख रुपये नकद प्रदान किए जाएंगे. कृषि विभाग द्वारा जिला स्तर पर भी किसानों को सम्मानित किया जाएगा. जिला स्तरीय श्रेणी में सभी 22 जिलों से चार-चार किसानों को पुरस्कार दिया जाएगा. इस प्रकार जिला स्तर पर सांत्वना पुरस्कार के रूप में 88 किसानों को 50-50 हजार रुपये की पुरस्कार राशि दी जाएगी.

Next Story